Breaking News

24 घंटे में कट गईं 32 चोटियां, दहशत

नोएडा
दिल्ली-एनसीआर में कई दिनों से चल रही चोटी कटने की ताबड़तोड़ वारदातों से सब हलकान हैं। फरीदाबाद, पलवल, हथीन, गुड़गांव, फिरोजपुरझिरका और ग्रेटर नोएडा से पिछले 24 घंटों में कई महिलाओं व लड़कियों की चोटी काटे जाने की सूचनाएं हैं। किसी भी मामले में पीड़ितों की ओर से चोटी काटने वाले को नहीं देख पाने से पुलिस भी किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पा रही है।

दिल्ली एनसीआर में पिछले 24 घंटों में 32 महिलाओं-बच्चियों की चोटियां काटी गई हैं।

ऐसे में दिल्ली पुलिस और एनसीआर के विभिन्न शहरों की पुलिस अब अपनी जांच दो पहलुओं पर केंद्रित कर दी है। पहला, या तो महिलाएं खुद अपनी चोटी काट रही हैं या फिर उन्हीं के घर का कोई सदस्य यह शरारत कर रहा है।

हालांकि पुलिस के अपने तेजतर्रार अफसर इन गुत्थियों को सुलझाने में लगा रखे हैं, लेकिन नतीजा फिलहाल शून्य ही है।

पुलिस के मुताबिक दिल्ली के कांगनहेड़ी, रनहौला, नजफगढ़, कापसहेड़ा, रोहिणी और जाफरपुर कलां के गांव उजवा, पालम के साधनगर, निहाल विहार, बेगमपुर, मायापुरी थाने की रामचंद्र बस्ती में चोटी कटने की घटनाओं में किसी बाहरी शख्स का हाथ होने की गुंजाइश न के बराबर है। ऐसे में पुलिस ने अपनी जांच का एंगल उन्हीं महिलाओं और उनके परिजनों की तरफ मोड़ दिया है।

पुलिस अफसरों का कहना है कि ऐसा नहीं है कि जांच के दूसरे किसी विकल्प को ठुकराया जा रहा है। मगर, अब तक जितने भी मामले हुए हैं उन सभी में एक कॉमन बात यह रही कि लगभग सभी की चोटियां घर के अंदर कटीं।
इनमें से अधिकतर के घर के मुख्य दरवाजे बंद थे। कई जगह सीसीटीवी भी लगे थे, जिनमें कोई संदिग्ध शख्स वारदात के समय कैद नहीं हुआ है। ऐसे में यह संभावना ज्यादा है कि चोटियां काटने वाला घर में ही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*