Breaking News

प्‍यार में होते हैं इतने अफसोस, जिंदगी भर पछताते हैं लोग

 

  • प्‍यार का एहसास बहुत अच्‍छा होता है. जो प्‍यार में होते हैं, वे ही इस फीलिंग को समझ सकते हैं. पर अब प्‍यार का एक स्‍याह रंग सामने आया है.

    प्‍यार में होते हैं इतने अफसोस, जिंदगी भर पछताते हैं लोग

    अमेरिका में हुई एक स्टडी में पता चला है कि इंसान को सबसे ज्‍यादा अफसोस प्‍यार में होता है. ऐसे अफसोस, जिसे वो पूरी जिंदगी नहीं भुला पाता.

    प्‍यार में होते हैं इतने अफसोस, जिंदगी भर पछताते हैं लोग

    ये स्‍टडी यूनिवर्सिटी ऑफ इलिनोइस ने की है. यहां के प्रो. माइक मॉरिसन और केलॉग स्कूल ऑफ मैनेजमेंट के नील रोएस ने 370 पुरुषों और महिलाओं पर टेलीफोनिक सर्वे किया था.

    प्‍यार में होते हैं इतने अफसोस, जिंदगी भर पछताते हैं लोग

    इस सर्वे में उन्होंने फोन करके लोगों से उनके जीवन के बड़े अफसोसों के बारे में पूछा था.

    प्‍यार में होते हैं इतने अफसोस, जिंदगी भर पछताते हैं लोग

    सबसे ज्यादा 18.1 फीसदी लोगों ने कहा कि उन्‍हें रोमांस से जुड़ी बातों के लिए अफसोस है.

    प्‍यार में होते हैं इतने अफसोस, जिंदगी भर पछताते हैं लोग

    शोध में ये बात सामने आई कि लोग अपने प्‍यार को भूल नहीं पाते. लोगों को जिन बातों पर सबसे ज्‍यादा अफसोस था उनमें ब्रेकअप, गलत इंसान से रिश्ता जोड़ना, ईगो, एक-दूसरे की परवाह ना करना, अलग होना जैसे तकलीफें थीं.

    प्‍यार में होते हैं इतने अफसोस, जिंदगी भर पछताते हैं लोग

    एक दिलचस्‍प ये सामने आई कि स्‍टडी में पुरुषों की तुलना में महिलाओं को प्‍यार से जुड़े ज्‍यादा अफसोस थे. इसका सीधा मतलब है कि महिलाएं प्‍यार से इतना इमोशनली जुड़ी होती हैं कि वे यादें भुला नहीं पातीं.

    प्‍यार में होते हैं इतने अफसोस, जिंदगी भर पछताते हैं लोग

    रोमांस के बाद नंबर था परिवार से जुड़े अफसोसों का. परिवार को पूरा समय ना देने, काम में उलझे रहने जैसे अफसोस लोगों को थे.

    प्‍यार में होते हैं इतने अफसोस, जिंदगी भर पछताते हैं लोग

    कुछ लोगों ने एजुकेशन को लेकर भी अफसोस जताए. कोई डिग्री हासिल ना करने, उच्च शिक्षा का मौका ना मिलने, बीच में पढ़ाई छोड़ने, बचपन में ढंग से पढ़ाई ना करने आदि अफसोस इसमें शामिल थे.

    प्‍यार में होते हैं इतने अफसोस, जिंदगी भर पछताते हैं लोग

    पढ़ाई के बाद करियर से जुड़े अफसोस भी लोगों को थे. सारी जिंदगी गलत करियर में फंसे रहने, समय पर सही फैसला ना लेने, करियर न बदलने आदि से संबंधित थे.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*