Breaking News

INDvsSL: मेंडिस-करुणारत्ने ने तीसरे ही दिन श्रीलंका को हारने से बचाया

भारत और श्रीलंका के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा टेस्ट एसएससी स्टेडियम कोलंबो में खेला जा रहा है. टीम इंडिया के पहले पारी में बनाए गए 622 रनों के विशाल स्कोर के जवाब में श्रीलंका की टीम पहली पारी में 183 रन पर ही ढेर हो गई. श्रीलंका फॉलोऑन भी नहीं बचा पाई. इसके बाद फॉलोऑन खेलने उतरी श्रीलंकाई टीम ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक दूसरी पारी में 2 विकेट गंवा कर 209 रन बना लिए हैं. दिमुथ करुणारत्ने (92) और मिलिंदा पुष्पकुमारा (2) क्रीज पर हैं.

करुणारत्ने-मेंडिस का फॉलोऑन में रिकॉर्ड

श्रीलंका के बल्लेबाज दिमुथ करुणारत्ने और कुशल मेंडिस के बीच हुई 191 रनों की साझेदारी भारत के खिलाफ फॉलोऑन खेलते हुए पिछले 15 सालों में बनाई गई सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड है. फॉलोऑन खेलने उतरी श्रीलंका की टीम ने 7 रन के स्कोर पर अपना पहला विकेट गंवाने के बाद पलटवार करते हुए तेजी से रन बनाने शुरू किए. दूसरे विकेट के लिए दिमुथ करुणारत्ने और कुशल मेंडिस ने शानदार बल्लेबाजी की और लंबी पार्टनरशिप करते हुए 191 रन जोड़ दिए.

धवन की गलती पड़ी भारी

टीम इंडिया ने फॉलो ऑन खेलने उतरी श्रीलंका को तीसरे ओवर में पहला झटका देकर अच्छी शुरुआत की थी. पहला विकेट जल्दी गिरने के बाद नए बल्लेबाज कुशल मेंडिस 8वें ओवर में अश्विन की गेंद पर आउट हो सकते थे, लेकिन धवन ने उनका कैच टपका दिया. उस वक्त मेंडिस 1 रन बनाकर क्रीज पर थे. धवन का ये कैच टीम इंडिया को महंगा पड़ा और मेंडिस ने 109 रन और जोड़ दिए.

श्रीलंका के विकेट्स

श्रीलंका की शुरुआत बेहद खराब रही और केवल 7 रन के स्कोर पर पहला विकेट गिर गया.2.6 ओवर में उमेश यादव ने उपुल थरंगा (2) को बोल्ड करते हुए दूसरी इनिंग में श्रीलंका का पहला विकेट गिराया.55वें ओवर में हार्दिक पंड्या ने श्रीलंका को दूसरा झटका दिया, जब उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी कर रहे कुशल मेंडिस को ऋद्धिमान साहा के हाथों कैच करा दिया. कुशल मेंडिस 110 रन बनाकर आउट हुए.

भारत ने श्रीलंका को दिया फॉलोऑन

टीम इंडिया ने अपनी पहली पारी में 9 विकेट गंवा कर 622 रन बनाए थे. इसी के साथ ही विराट कोहली ने पारी घोषित कर दी. भारत के बड़े स्कोर के जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका की टीम 49.4 ओवर में 183 रन पर ही ढेर हो गई. श्रीलंका की टीम फॉलोऑन भी नहीं बचा पाई, जिसके बाद अब उन्हें दोबारा बल्लेबाजी के लिए उतरना पड़ेगा. पहली पारी के आधार पर भारत को 439 रनों की बढ़त हासिल हुई है. श्रीलंका की ओर से निरोशन डिकवेला ने 51 रनों की संघर्षपूर्ण पारी खेली. वहीं भारत की ओर से अश्विन ने श्रीलंकाई बल्लेबाजों पर अपना कहर बरपाया है. अश्विन ने 5 विकेट लिए हैं. 35वें ओवर में धनंजय डिसिल्वा को बोल्ड करके जडेजा ने टेस्ट क्रिकेट में अपने 150 विकेट पूरे किए. जडेजा भारत की तरफ से सबसे तेज 150 विकेट लेने वाले लेफ्ट आर्म स्पिन गेंदबाज बन गए हैं. पहली पारी में अश्विन के अलावा जडेजा और शमी ने 2-2 विकेट लिए.

महज 183 रन पर ऐसे ढेर हुई श्रीलंका

बल्ले से शानदार अर्धशतक जड़ने के बाद रविचंद्रन अश्विन ने अपनी क्लास दिखाते हुए श्रीलंका के दोनों ओपनर बल्लेबाजों को पवेलियन लौटा दिया हैं. अश्विन ने श्रीलंका को अपने पहले ही ओवर में थरंगा को शून्य के स्कोर पर आउट करके पहला झटका दिया. वहीं संभल कर खेल रहे करुणारत्ने को भी अश्विन ने वापस भेजा. अश्विन की गेंद पर थरंगा (0) लोकेश राहुल को कैच दे बैठे. इसके बाद 13.4 ओवर में अश्विन ने करुणारत्ने (25) को अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच करा दिया.

तीसरे दिन की शुरुआत में ही श्रीलंका ने अपने स्कोर में महज 14 रन जोड़कर अपने दो विकेट गंवा दिए. 25वें ओवर में श्रीलंकाई कप्तान दिनेश चांडीमल, जडेजा की गेंद को स्वीप करने की कोशिश में पंड्या को अपना कैच दे बैठे. चांडीमल 10 रन बनाकर आउट हुए. इसके बाद अगले ही ओवर में कुशल मेंडिस, उमेश यादव की धीमी गेंद पर चकमा खा गए और विराट कोहली को अपना कैच दे बैठे. कुशल मेंडिस 24 रन बनाकर आउट हुए.

पांचवें विकेट के रूप में एंजेलो मैथ्यूज (26) आउट हुए. वे 33.6 ओवर में अश्विन की बॉल पर पुजारा को कैच दे बैठे. रवींद्र जडेजा ने 34.5 ओवर में 122 के स्कोर पर धनंजय डिसिल्वा (0) को बोल्ड करते हुए, श्रीलंका का छठा विकेट गिराया. इस विकेट के साथ ही रवींद्र जडेजा ने टेस्ट क्रिकेट में अपने 150 विकेट पूरे किए.

सातवां विकेट मोहम्मद शमी को मिला. जब 41.1 ओवर में 150 रन के स्कोर पर उन्होंने निरोशन डिकवेला को बोल्ड कर दिया. डिकवेला ने 51 रनों की संघर्षपूर्ण पारी खेली. उसी ओवर की आखिरी गेंद पर मोहम्मद शमी ने रंगना हेराथ को भी बोल्ड करके पवेलियन लौटा दिया. हेराथ 2 रन बनाकर आउट हुए.आखिरी दोनों विकेट अश्विन ने लिए. भारत के लिए पहली पारी में अश्विन ने 5 विकेट तो वहीं जडेजा और शमी ने 2-2 विकेट लिए.

श्रीलंका की धरती पर लगातार दूसरी बार बनाए 600+ रन

श्रीलंकाई धरती पर टीम इंडिया ने लगातार दो टेस्ट में 600 से अधिक रन बनाए हैं. वहीं दिसंबर 2016 से लेकर अब तक भारतीय टीम कुल 6 बार 600 या उससे अधिक रन बना चुकी है. भारत ने उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (132) और चेतेश्वर पुजारा (133) की शानदार पारियों की बदौलत पहली पारी में 622 रन बनाए.

वहीं रवींद्र जडेजा ने 70*, रिद्धिमान साहा ने 67, लोकेश राहुल ने 57 और आर. अश्विन ने 54 रन की इनिंग खेली.भारत की ओर से चौथे विकेट के लिए पुजारा और रहाणे ने 217 रन की पार्टनरशिप की. वहीं दूसरी सबसे बड़ी पार्टनरशिप आठवें विकेट (72 रन) के लिए जडेजा और साहा के बीच हुई.श्रीलंका की ओर से रंगना हेराथ सबसे सफल बॉलर रहे, जिन्होंने 4/154 विकेट लिए. वहीं मेलिंडा पुष्पकुमार ने 2/156 विकेट लिए. करुणारत्ने और दिलरुवान को 1-1 विकेट मिला.

भारत के विकेट्स

टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने उतरी भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही और 56 के स्कोर पर शिखर धवन के रूप में पहला झटका लग गया. 10.1 ओवर में दिलरुवान परेरा ने शिखर धवन को एलबीडब्लू कर दिया. धवन ने काफी तेज बल्लेबाजी करते हुए 37 गेंदों पर 35 रन बनाए.

भारत का दूसरा विकेट लोकेश राहुल के रूप में गिरा. 30.4 ओवर में वे चांडीमल ने उन्हें रनआउट कर दिया. थोड़ी देर बाद तीसरा विकेट विराट कोहली (13) के रूप में गिरा.  वे 38.5 ओवर में रंगना हेराथ की बॉल पर एंजेलो मैथ्यूज को कैच दे बैठे. उस वक्त भारत का स्कोर 133 रन था.

दूसरे दिन भारत ने गुरुवार के अपने स्कोर 344/3 रन से आगे खेलना शुरू किया. दो ओवर हुए ही थे और स्कोर में अभी 6 रन ही जुड़े थे, कि चौथा विकेट भी गिर गया.91.6 ओवर में चेतेश्वर पुजारा (133) को दिमुथ करुणारत्ने ने एलबीडब्लू आउट कर दिया. वे अपने एक दिन पहले के स्कोर में केवल 5 रन और ही जोड़ सके. आउट होने से पहले चौथे विकेट के लिए उन्होने रहाणे के साथ मिलकर 217 रन की पार्टनरशिप की.

पांचवां विकेट अजिंक्य रहाणे (132) का रहा. वे 110.5 ओवर में पुष्पकुमार की बॉल पर शॉट मारने के लिए आगे बढ़े लेकिन चूक गए, जिसके बाद डिकवेला ने उन्हें स्टंप कर दिया.लंच के बाद 121.4 ओवर में अश्विन ने रंगना हेराथ की गेंद पर छक्का लगाकर अपनी फिफ्टी पूरी की. लेकिन इसके बाद अगली बॉल पर वे बोल्ड हो गए. सातवां विकेट हार्दिक पंड्या (20) का रहा. जो 132.4 ओवर में 496 के स्कोर पर पुष्पकुमार की बॉल पर मैथ्यूज को कैच दे बैठे.

आठवें विकेट के रूप में ऋद्धिमान साहा (67) आउट हुए. हेराथ की बॉल पर डिकवेला ने उन्हें कैच कर लिया.नौवां विकेट शमी (19) का रहा. हेराथ की बॉल पर उपुल थरंगा ने उन्हें कैच कर लिया. रवींद्र जडेजा 70 रन और उमेश यादव 8 रन बनाकर नॉटआउट रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*